bihar cm nitish kumar met old colleagues said there has been an awakening  among women children and girls - पुराने साथियों से मिले नीतीश कुमार,  हाल-चाल पूछा, CM ने कहा- बिहार की

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज कोसियावां, एकंगरसराय बाजार, जगाई, रतनपुरा, दरियापुर, शेख अब्दुल्ला, कोरमा बाजार, इस्लामपुर बाजार सहित कई जगहों पर अपने पुराने साथियों एवं कार्यकतार्ओं से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने कहा कि आपलोगों के सहयोग से ही आज हम यहां हैं। हमसे जो भी संभव हुआ हम आपलोगों का काम करते रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने अपने पुराने सहयोगियों एवं कार्यकतार्ओं से कहा कि आपलोग इतनी बड़ी संख्या में इस गर्मी में भी यहां हैं। आप सबसे मिलकर बहुत खुशी हो रही है। मेरे मन में आया कि आपलोगों से आकर मिलें और उसी सिलसिले में मिलने आज यहां आया हूँ। इस दौरान बहुत सारे लोगों ने अपनी समस्याओं को बताया है, उनसब चीजों को देखा जाएगा और उस पर काम किया जाएगा। आप सब लोगों का हमेशा से सहयोग मिलता रहा है, इसको हम जीवन भर याद रखेंगे और आजीवन आपकी सेवा करते रहेंगे।
मुख्यमंत्री ने लोगों की बातों एवं समस्याओं को सुना और उन्हें समाधान का भरोसा भी दियाl मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की महिलाओं व बच्चों में काफी जागृति आई हैl इस दौरान वो नये कार्यकतार्ओं से भी घूम-घूमकर मिलेl नीतीश कुमार ने इस दौरान स्वयं अपने हाथों से आवेदन लियाl विभागीय नहीं बल्कि निजी जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान सभी जगह उत्साह का माहौल देखने को मिलाl सभी जगह लोग उनका बेसब्री से इंतजार कर रहे थेl
मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज में पहले बहुत विवाद होता था, अब यह काफी कम हुआ है। इसे कायम रखना है। आप सबलोगों से अपील है कि सभी लोग मिलकर रहें, आपस में प्रेम और भाईचारे का भाव रखें। मुख्यमंत्री के पुराने साथियों एवं कार्यकतार्ओं ने जगह-जगह पुष्प-गुच्छ, फूल-मालाओं एवं पुष्प वर्षा कर उनका स्वागत किया। भ्रमण के दौरान मुख्यमंत्री ने एकंगरसराय में महान स्वतंत्रता सेनानी, शिक्षाविद् एवं पूर्व मंत्री स्व. डॉ लाल सिंह त्यागी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर अपनी श्रद्घांजलि अर्पित की। इस दौरान उनके साथ जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा, ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार, सांसद कौशलेन्द्र कुमार, सेवानिवृत्त प्रो जनार्दन सिंह सहित कई गणमान्य व्यक्ति भी थे।

By Shubhendu Prakash

Note:- किसी भी तरह के विवाद उत्प्पन होने की स्थिति में इसकी जिम्मेदारी चैनल या संस्थान या फिर news website की नही होगी लेखक इसके लिए स्वयम जिम्मेदार होगा, संसथान में काम या सहयोग देने वाले लोगो पर ही मुकदमा दायर किया जा सकता है. कोर्ट के आदेश के बाद ही लेखक की सुचना मुहैया करवाई जाएगी धन्यवाद शुभेन्दु प्रकाश 2012 से सुचना और प्रोद्योगिकी के क्षेत्र मे कार्यरत है साथ ही पत्रकारिता भी 2009 से कर रहें हैं | कई प्रिंट और इलेक्ट्रनिक मीडिया के लिए काम किया साथ ही ये आईटी services भी मुहैया करवाते हैं | 2020 से शुभेन्दु ने कोरोना को देखते हुए फुल टाइम मे जर्नलिज्म करने का निर्णय लिया अभी ये माटी की पुकार हिंदी माशिक पत्रिका में समाचार सम्पादक के पद पर कार्यरत है साथ ही aware news 24 का भी संचालन कर रहे हैं , शुभेन्दु बहुत सारे न्यूज़ पोर्टल तथा youtube चैनल को भी अपना योगदान देते हैं | अभी भी शुभेन्दु Golden Enterprises नामक फर्म का भी संचालन कर रहें हैं और बेहतर आईटी सेवा के लिए भी कार्य कर रहें हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *